Home / Videos / स्वस्थ्य, मजबूत, ताक़तवर एवं मोटे होने के ज़बरदस्त उपाय। For Healthy, strong Body

स्वस्थ्य, मजबूत, ताक़तवर एवं मोटे होने के ज़बरदस्त उपाय। For Healthy, strong Body

आयुर्वेद के अनुसार अत्यंत मोटे तथा अत्यंत दुबले शरीर वाले व्यक्तियों को हेय दृष्टि से देखा जाता है। वास्तव में दुबलापन (debility) एक रोग न होकर संतुलित आहार न लेने एवं असंयम आदि का एक परिणाम मात्र है।
दुबला होने का सबसे प्रमुख कारण मनुष्य के शरीर में स्थित कुछ कीटाणुओं की रासायनिक क्रिया का प्रभाव होना है जो थायरायइड ग्रंथि (thyroid gland) पर निर्भर करती हैं यह गले के पास शरीर की गर्मी बढ़ाती है तथा अस्थियों की वृद्धि करने में मदद करती है। यह ग्रंथि जिस मनुष्य में जितनी ही अधिक कमजोर होगी, वह मनुष्य उतना ही कमजोर और पतला होता है। ठीक इसके विपरीत जिस मनुष्य में यह ग्रंथि स्वस्थ और मोटी होगी, वह मनुष्य उतना ही सबल और मोटा होगा।

जो व्यक्ति अधिक दुबला होता है वह किसी भी कार्य को करने में थक जाता है तथा उसके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता (resistive capacity) कम हो जाती है ऐसे व्यक्ति को कोई भी रोग जैसे- सांस का रोग, क्षय रोग, हृदय रोग, गुर्दें के रोग, टायफाइड, कैंसर बहुत जल्दी हो जाते हैं। जबकि वजन बढ़ाने के लिए सबसे पहले तो आपका फिट रहना जरूरी है यदि आप वजन बढ़ाना चाहते हैं इसका ये अर्थ नहीं कि आप फिजीकल रूप से बिल्कुल भी सक्रिय नहीं होंगे- व्यायाम (exercise) करना तब भी जरूरी होगा। इसलिए वजन बढ़ाने के लिए सबसे बढि़या उपाय है आप हाई कैलोरी का खाना खाएं उन खाद्य पदार्थों का सेवन ज्यादा करें जिनमें कैलोरी की मात्रा अधिक हो लेकिन ध्यान रखें आप जंकफूड (junk food) कभी भी न खाएं। बल्कि इसके बदले आपको हेल्दी और हाई कैलोरी भोजन को प्राथमिकता देनी हैं। इसके साथ हीं अगर आप वजन हेल्दी रूप से बढ़ाना चाहते हैं तो आपको सुबह का नाश्ता हेवी करना होगा। च्यवनप्राश भी वजन बढ़ाने के लिए एक आयुर्वेदिक औषधी है और यह आमतौर पर भी लगभग सभी के लिए हेल्दी रहता है। इससे न सिर्फ शारीरिक उर्जा बढ़ती है बल्कि मेटाबोलिज्म (metabolism) भी मजबूत होता है। शतावरी कल्पा लेने से न सिर्फ आंखें और मसल्स अच्छी रहती है बल्कि इससे वजन भी बढ़ता है इसके अलावा वसंत कुसुमकर रस भी शरीर को न सिर्फ आंतरिक उर्जा देता है बल्कि वजन को जल्दी बढ़ाने में भी लाभकारी है।